रेग्युलेटिंग एक्ट 1773 | Regulating Act 1773 In Hindi

  • इस एक्ट के द्वारा बंगाल के गवर्नर का नाम बदलकर गवर्नर जनरल कर दिया गया तथा मुम्बई और मद्रास के गवर्नर को इसके अधीन कर दिया गया।
  • बंगाल का पहला गवर्नर जनरल वारेन हेस्टिंग्स था।
  • गवर्नर जनरल के सलाह के लिए एक कार्यकारणी का गठन किया गया इसमें कुल 4 सदस्य होते थे तथा इनका कार्यकाल 5 वर्ष होता था।
  • बोर्ड ऑफ डारेक्टर (BOD) की संख्या बढाकर 24 कर दी गई।
  • 1773 एक्ट के द्वारा भारत में कलकत्ता न्यायालय की स्थापना की गई तथा इसने कार्य करना 1774 ई० में प्रारम्भ किया। इसमें कुल 4 न्यायाधीश (3 सदस्य + एक मुख्य सदस्य) होते थे।
  • 1781 में एक्ट ऑफ सेटेलमेंट के द्वारा ईस्ट इंडिया कंपनी के अधिकारियों को न्यायालय के अधिकार क्षेत्र से बाहर कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *